Dhoni spoke on retirement said My eyes on 2019 World Cup | रिटायरमेंट पर बोले धोनी


नई दिल्ली. महेंद्र सिंह धोनी ने संन्यास की खबरों को खारिज कर दिया है। उन्होंने कहा कि वो अगले साल इंग्लैंड में होने वाले विश्व कप पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं। बता दें कि पिछले महीने इंग्लैंड के खिलाफ अंतिम वनडे के बाद धोनी ने अंपायर से गेंद ली थी। इसके बाद मीडिया में कयास लगने लगे थे कि धोनी ने अंतिम वनडे की यादगार के तौर पर यह गेंद अपनी पास रख ली है। धोनी ने इस बारे में कहा- मैंने ये देखने के लिए बॉल ली थी कि हमारे गेंदबाज इससे रिवर्स स्विंग हासिल कर सकते हैं या नहीं। 

क्यों उड़ी रिटायरमेंट की खबर?

– हेडिंग्ले के लीड्स मैदान पर आखिरी वनडे खेला गया था। मैच के बाद धोनी ने अंपायर से गेंद मांगी। अंपायर ने धोनी को ये गेंद सौंप दी। इसके बाद धोनी के क्रिकेट से संन्यास की खबरें फैलने लगीं। टीम के कोच रवि शास्त्री ने उसी वक्त ये साफ कर दिया था कि धोनी के रिटायरमेंट की खबरें गलत हैं। 

– आईसीसी की वेबसाइट से बातचीत में धोनी ने कहा, “वर्ल्ड कप हमें इंग्लैंड में ही खेलना है। हमारे लिए ये जरूरी है कि हम रिवर्स स्विंग हासिल करें। इसकी तैयारी के लिए ही मैंने अंपायर से गेंद ली थी।” 

आईसीसी के काम की नहीं थी वो गेंद

– धोनी ने आगे कहा, “इंग्लैंड के गेंदबाजों को रिवर्स स्विंग मिल रही थी। हमें भी यही करना चाहिए था। बॉल को समझने के लिए ही मैंने अंपायर से इसे मांगा था।” टीम इंडिया को विश्व कप जिता चुके इस कप्तान के मुताबिक, वो इस गेंद के जरिए ये समझने की कोशिश करने वाले थे कि आखिरी ओवरों में हमें कैसी गेंदबाजी करनी चाहिए। 

– धोनी टेस्ट क्रिकेट से संन्यास ले चुके हैं और फिलहाल, टी20 और वनडे क्रिकेट ही खेलते हैं। उन्होंने कहा, “50 ओवर के बाद कोई भी गेंद आईसीसी के लिए काम की नहीं रहती। इसलिए मैंने अंपायर से गुजारिश कर वो गेंद हासिल की थी। बाद में मैंने इसे अपने बॉलिंग कोच को दे दिया। मैंने उनसे कहा कि इसे देखिए और बताइए कि क्या हम भी इससे कुछ रिवर्स स्विंग हासिल कर सकते हैं। इससे हमारे तेज गेंदबाजों को मदद मिलेगी वो ज्यादा बेहतर यॉर्कर फेंक सकेंगे। हम आखिरी 10 ओवर में विपक्षी टीम पर अंकुश लगा सकेंगे।”



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *