Breaking News

Home sales increased 25% after implementation of Real Estate Law


Home sales increased 25% after implementation of Real Estate Law

रियल एस्टेट कानून लागू होने के बाद देश में घरों की बिक्री 25% बढ़ी, पिछले साल की अपेक्षा 33% ज्यादा लोगों को मिले घर

नई दिल्ली. पिछले साल मई में लागू हुआ रियल एस्टेट कानून (रेरा) अब असर दिखाने लगा है। यही कारण है कि बिल्डर्स और डेवलपर्स जल्दी घरों की डिलीवरी ग्राहकों को कर रहे हैं। क्योंकि रियल एस्टेट कानून के तहत किसी बिल्डर ने ग्राहक को घर देने मे देरी की तो ऐसे ग्राहक अपना पैसा वापस ले सकता है। 

इस साल 33% ज्यादा घर लोगों को मिले 

रियल्टी पोर्टल प्रॉपटाइगर के एक रिपोर्ट की मानें तो देश के 9 बड़े शहरों में 2018 में जनवरी से जून के दौरान 33%ज्यादा घरों की डिलीवरी हुई है। जनवरी-जून 2017 में डेवलपर्स ने 1,44,654 खरीदारों को घर बनाकर सौंपे थे। इस साल यह संख्या बढ़कर 1,93,061 हो गई। नोएडा में सबसे ज्यादा 171% और मुंबई में 85% डिलीवरी बढ़ी है। 

 

जुर्माने से बचने के लिए बढ़ाई काम की स्पीड़ 

रियल्टी पोर्टल प्रॉपटाइगर ने रिपोर्ट में यह दावा किया है कि  2019 के अंत तक डेवलपर 8.6 लाख घरों की डिलीवरी करेंगे। प्रॉपटाइगर के चीफ इन्वेस्टमेंट ऑफिसर अंकुर धवन का कहना है कि रेरा लागू होने के बाद डेवलपर नए प्रोजेक्ट लॉन्च करने के बजाए पुराने प्रोजेक्ट पूरा करने पर ध्यान दे रहे हैं। वे प्रोजेक्ट में देरी पर लगने वाले जुर्माने से बचना चाहते हैं। डिलीवरी बढ़ने से ग्राहकों के सेंटिमेंट में सुधार होगा।

 

त्योहारी सीजन में बढ़ सकती है घरों की बिक्री 

इससे आने वाले त्योहारी सीजन में घरों की बिक्री बढ़ सकती है। सर्वे में जिन शहरों को शामिल किया गया है उनमें नोएडा में ग्रेटर नोएडा और यमुना एक्सप्रेस वे, मुंबई में नवी मुंबई और ठाणे और गुरुग्राम में भिवाड़ी, धारूहेड़ा और सोहना शामिल हैं। चेन्नई में घरों की डिलीवरी 28% और पुणे में 8% घटी है।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *