Breaking News

Here Is Why Hema Malini Has Never Visited Dharmendra House


मुंबई. हेमा मालिनी 70 साल की हो गई हैं। 16 अक्टूबर 1948 अमंकुदी, तमिलनाडु में जन्मी हेमा मालिनी ने 21 अगस्त 1979 को सुपरस्टार धर्मेंद्र से शादी की थी। लेकिन क्या आप जानते हैं कि शादी के बाद हेमा कभी धर्मेंद्र के घर नहीं गईं। इस बात का खुलासा राम कमल मुखर्जी की बुक ‘हेमा मालिनी : बियॉन्ड द ड्रीम गर्ल’ में किया गया है। बुक के मुताबिक, हेमा ने धर्मेंद्र से शादी जरूर की थी, लेकिन वे उनकी दूसरी फैमिली (पहली पत्नी प्रकाश कौर और बच्चे) को डिस्टर्ब नहीं करना चाहती थीं। शादी से पहले प्रकाश कौर से कई बार मिली थीं हेमा…

– बुक में मुताबिक, शादी से पहले हेमा मालिनी प्रकाश कौर से कई बार सोशल गेदरिंग में मिली थीं। लेकिन शादी के बाद दोनों के रास्ते अलग हो गए। बकौल हेमा, “मैं किसी को डिस्टर्ब नहीं करना चाहती थी। धरमजी ने मेरे और मेरी बेटियों के लिए लिए जो किया, मैं उसमें खुश हूं। उन्होंने एक पिता की भूमिका बखूबी निभाई। आज मैं काम करती हूं और अपनी डिग्निटी को मेंटेन करने में सक्षम हूं। क्योंकि मैंने अपनी जिंदगी को आर्ट और कल्चर से जोड़ लिया है। मुझे लगता है कि अगर सिचुएशन इससे थोड़ी भी अलग होती तो मैं आज वहां न होती, जहां हूं।”

प्रकाश कौर का पूरा सम्मान करती हैं हेमा

– हेमा ने एक इंटरव्यू में कहा था, “भले ही मैं कभी प्रकाश के बारे में बात नहीं करती, लेकिन मैं उनका बहुत सम्मान करती हूं। मेरी बेटियां भी धरमजी की फैमिली का पूरा सम्मान करती हैं। दुनिया मेरी लाइफ के बारे में विस्तार से जानना चाहती है। लेकिन दूसरों को बताने के लिए नहीं है। इससे किसी को मतलब नहीं होना चाहिए। “

हेमा के भाई के घर से हुई थी शादी

– हेमा मालिनी की शादी उनके भाई के घर से हुई थी। यह तमिल वेडिंग थी। कहा जाता है कि धर्मेंद्र और हेमा दोनों ही इसी तरह से शादी करना चाहते थे। ‘हेमा मालिनी : बियॉन्ड द ड्रीम गर्ल’ के मुताबिक, धर्मेंद्र के पिता केवल कृष्ण सिंह देओल हेमा और उनकी फैमिली को बहुत पसंद करते थे। हेमा ने बुक में बताया है, “केवल कृष्ण सिंह देओल अक्सर चाय पर पिता और भाई से मिला करते थे। इस दौरान वे पंजे भी लड़ाया करते थे और उन्हें (हेमा के पिता और भाई) हराने के बाद मजाक करते हुए कहते थे, ‘तुम लोग घी मक्खन लस्सी खाओ। इडली और सांभर से ताकत नहीं आती।’ इसके बाद वे खूब हंसते थे।”

जब परिवार को बिना बताए हेमा से मिलने पहुंची थीं धर्मेंद्र की मां

– हेमा की बुक में धर्मेंद्र की मां सतवंत कौर के साथ उनके रिश्ते का जिक्र भी किया गया है। हेमा के मुताबिक, “धरमजी की मां सतवंत कौर बहुत ही अच्छी महिला थीं। मुझे याद है कि एक बार वे मुझसे मिलने जुहू के एक डबिंग स्टूडियो में आई थीं। उस वक्त मैंने ईशा को कंसीव किया था। उन्होंने घर में किसी को नहीं बताया था। मैंने उनके पैर छुए और उन्होंने कहा, ‘बेटा खुश रहो हमेशा’। मुझे यह देखकर बहुत खुशी हुई थी।”





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *