Breaking News

Shakti Kapoor Opens up about Metoo Campaign and said Women are blackmailing | #MeToo : सेक्शुअल हैरेसमेंट पर बोले शक्ति कपूर – 70% लड़कियां ब्लैकमेल कर रही हैं, प्रधानमंत्री से की अपील


एंटरटेनमेंट डेस्क। बॉलीवुड एक्टर और विलेन के रोल के लिए मशहूर शक्ति कपूर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अपील की है कि #MeToo कैंपेन को रोकिए। शक्ति कपूर का दावा है कि इस कैंपेन के तहत आरोप लगा रही 70% लड़कियां सिर्फ ब्लैकमेल कर रही हैं। शक्तिकपूर की सलाह है कि जब तक कोर्ट में कुछ साबित न हो जाए, किसी पुरुष का नाम न लिया जाए। एक निजी चैनल के मुताबिक शक्ति कपूर ने उन्हें भेजे एक ऑडियो क्लिप में प्रधानमंत्री से ये गुजारिश की है। शक्ति कपूर ने ऑडियो क्लिप में क्या कहा है?


ऑडियो क्लिप में शक्ति कपूर #MeToo कैंपेन को लेकर खासे नाराज दिख रहे हैं। क्लिप में उन्होंने कहा है – ”ऐसी लड़कियां हैं हिंदुस्तान में जो किसी का भी करियर खत्म कर सकती हैं। मेरी मोदी साहब से एक ही दरख्वास्त है कि कोई कोर्ट कचहरी में कुछ भी साबित होने से पहेल किसी आदमी का का नाम एक्सपोज नहीं करना चाहिए। कलाकार, मंत्री या कोई बिजनेसमैन, किसी का नाम नहीं लेना चाहिए। उससे क्या होता है? जब नाम आता है तो उस इंसान का करियर खत्म हो जाता है मोदी साहब। डोंट डू दिस, यू आर फिनिशिंग इंडिया। डोंट डू दिस। आई विल फाइट फॉर दिस।


क्योंकि मेरे ऊपर ये बहुत हुआ है। तो आदमी का नाम लेने से पहले केस को कोर्ट में लेकर जाओ। 70% लड़कियां ब्लैकमेल कर रही हैं मोदी साहब। हम दोनों ने एक साथ मंच साझा किया है। जब आप पीएम नहीं बने थे। हम लोग उत्तराखंड में थे। आप महान हैं। आप बहुत कमाल हैं सर। आप मेरी बात को समझेंगे। पहले प्रूव करो, फिर किसी का नाम एक्सपोज करो ना। उस आदमी का परिवार खत्म। उसकी पत्नी किस शक से देखेगी। उसके बच्चे किस शक से देखेंगे। उसका बिजनेस खत्म। उसको नौकरी से निकाल दिया जाएगा। अरे साजिद खान को फिल्म से निकाल दिया। इतने बड़े-बड़े डायरेक्टर को निकाल दिया। ऋतिक पर आरोप। सब पर आरोप। अमिताभ बच्चन पर भी आऱोप। कल को मोदी साहब पर भी आएगा, तो क्या करेंगे आप?”

13 साल पहले कास्टिंग काउच में रंगे हाथ पकड़ाए थे शक्ति कपूर…

2005 में बॉलीवुड के रील लाइफ विलेन शक्ति कपूर असल जिंदगी में भी विलेन की तरह उभर कर सामने आए थे। दरअसल, एक स्टिंग ऑपरेशन में शक्ति कपूर को फिल्मों में रोल दिलवाने के एवज में सेक्शुअली एडवांटेज लेने की कोशिश करते हुए कैमरे में कैद कर लिया गया था। जब स्टिंग ऑपरेशन का टेप जारी हुआ तो बॉलीवुड में तहलका मच गया था। हालांकि, शक्ति कपूर ने दावा किया था कि यह उनके खिलाफ साजिश है और टेप फर्जी है। इस मामले ने खूब सुर्खियां बटोरी थीं। स्टिंग ऑपरेशन के बाद शक्ति कपूर के फिल्मों में काम करने पर ही प्रतिबंध लगा दिया गया था। फिल्म एंड टीवी प्रोड्यूसर्स गिल्ड ऑफ इंडिया की तरफ से यश चोपड़ा, सुभाष घई और अमित खन्ना ने यह फैसला लिया था। कास्टिंग काउच कॉन्ट्रोवर्सी पर शक्ति कपूर ने कहा था, ‘मैं पूरी फिल्म इंडस्ट्री से माफी मांगता हूं। मेरे सभी बयानों को तोड़-मरोड़कर पेश किया गया’। बता दें कि शक्ति कपूर अपने करियर में तकरीबन 700 फिल्मों में काम किया है। ज्यादातर फिल्मों उन्होंने विलेन का किरदार निभाया है। विलेन के अलावा वे कॉमेडियन और अलग-अलग किरदारों में भी नजर आए।

अब तक इन सेलेब्रिटी पर लग चुके आरोप…

आपको बता दें कि #Metoo कैम्पेन के तहत अब तक कई बॉलीवुड सेलेब्रिटीज पर आरोप लग चुके हैं। इनमें नाना पाटेकर, आलोकनाथ, डायरेक्टर विकास बहल, सुभाष घई, गौरांग दोषी, साजिद खान, सिंगर कैलाश खेर पर सेक्शुअल हैरेसमेंट के आरोप लग चुके हैं।

आरोप लगाने वाली महिला के खिलाफ ही चेतन भगत ने पेश कर दिए सबूत…

चेतन भगत पर राइटर इरा त्रिवेदी ने सेक्शुअल हैरेसमेंट का आरोप लगाया था, जिस पर चेतन भगत ने उन्हें करारा जवाब दिया है। चेतन भगत ने सफाई पेश करने के लिए ट्विटर पर कुछ स्क्रीनशॉट्स शेयर किए हैं। ये स्क्रीनशॉट्स इरा त्रिवेदी द्वारा किए गए मेल के हैं जो उन्हें इरा ने किए थे। ईमेल के आखिरी में इरा किस यू, मिस यू लिख रही हैं, जिसे चेतन ने अपने बचाव में हाईलाइट करते हुए लिखा है- तो देखिए, कौन किसको किस करना चाहता था? इरा का यह मेल 2013 का है, इसकी अंतिम लाइन देखिए जिसके बाद ये साफ़ है कि 2010 की घटना को लेकर उनके लगाए आरोप गलत हैं और वो भी ये बात जानती हैं। हालांकि इरा त्रिवेदी ने चेतन भगत के ताजा दावे पर रिएक्शन देते हुए लिखा है कि उनपर धमकाने और झूठ बोलने के प्रयास काम नहीं करेंगे।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *